अच्छी आदतें :-
दूसरों को इज्जत और सम्मान देना और साथ ही साथ स्वयं को भी इज्जत की निगाहों से देखना ,दूसरों और स्वयं के प्रति विनम्रता, शांति और शिष्टाचार का भाव रखना ही अच्छी आदत है।जब कोई हम से बुरी तरह से पेश आता है ,मसलन वो हमें कभी भी धन्यवाद नहीं करता या कुछ मांगने से पहले कृपया आदि शब्द नहीं लगाता या हमारे किसी प्रश्न का उत्तर नहीं देता तो हमें बहुत बुरा लगता है।जब हम अन्य व्यक्तियों की भावनाओं को अपने दिमाग में रखेंगे और ऐसा व्यक्ति बनने का प्रयत्न करेंगे जिसे हर कोई पसंद करता हो तब हम कह सकते हैं कि हम में अच्छी आदतें हैं।
कुछ अच्छी आदतें निम्नलिखित हैं :
हमें हमेशा दूसरों की मदद करनी चाहिए ,चाहे वो विद्यालय में हो ,चाहे घर में हो या बाहर किसी  स्थान पर  हो ।किसी की भी कोई वस्तु लेने से पहले हमें उस व्यक्ति से इजाजत ले लेनी चाहिए और किसी की ली हुई वस्तु इस्तेमाल कर लोटाते समय उसे धन्यवाद करना भी याद रखना चाहिए।कुछ भी बोलने से पहले हमें सामने वाले को अपनी बात ख़त्म करने का मौका देना चाहिए।

हमें स्वयं की,अन्य लोगों की और सार्वजनिक संपत्ति को नुक्सान नहीं पहुंचाना चाहिए।हमें सभी के प्रति सम्मान का भाव रखना चाहिए और सभी से विनम्रता से पेश आना चाहिए।हमें कहीं भी अभद्र भाषा का प्रयोग  नहीं करना चाहिए।हमें किसी का भी कभी मजाक नहीं उडाना चाहिए।हमें कूड़ा ,कूड़ेदान में ही डालना चाहिए और अपने आस-पास का वातावरण साफ़ और स्वच्छ रखना चाहिए।

 हमें खाना खाते समय कभी भी बोलना नहीं चाहिए और मुँह बंद कर के खाना खाना चाहिए।खाने की मेज पर हमें औरों के खाना शुरू करने का इन्तजार करना चाहिए।हमें फ़ोन आदि पर आराम से और विनम्रता से बातचीत करनी चाहिए।हमें सार्वजनिक स्थानों पर जोर जोर से बात नहीं करनी चाहिए ।

यदि हम इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखेंगे तो हम पायेंगे कि हर कोई हमसे प्यार करने लगा है और हमें सम्मान की निगाहों से देख रहा है।