वैराग्य से मोक्ष प्राप्ति:- वेदों के अनुसार :- मनेव् मनुष्यानां कारणं बन्धमोक्षयो:‍।  ‍   अर्थात्  मन ही मनुष्यों के बंधन और मोक्ष का हेतु है। शुद्ध मन जिसमें संसार की किसी भी वस्तु से राग नहीं है और संसार में फिर न आने की पक्की धारणा बन चुकी है...